PM Mitra Scheme 2021: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लाभ व MITRA Yojana कार्यान्वयन प्रक्रिया पीएम मित्र योजना

भारत सरकार द्वारा हमेशा से ही व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयास किया जाता है। इसके लिए सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएँ आरंभ की जाती है। इन योजनाओं के माध्यम से देश के लोगों को प्रशिक्षण से लेकर वित्तीय सहायता तक प्रदान की जाती है। आज हम आपको इस पोस्ट में टेक्सटाइल एवं मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए आरंभ की गई सरकार की एक नई योजनाPM Mitra Scheme के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

तो दोस्तों अगर आप भी PM Mitra Scheme 2021 के बारे में जानना चाहते है तो इस ब्लॉग पोस्ट को ध्यान से पूरा पढ़िए। क्योंकि इस ब्लॉग पोस्ट में हम आपको PM Mitra Scheme के बारे में पूरी जानकारी देंगे।जैसे कि इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो चलिए शुरू करते है.

PM Mitra Scheme 2021

PM Mitra Scheme 2021

पीएम मित्र योजना का शुभारंभ 6 अक्टूबर 2021 को किया गया है। इस योजना को प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल एंड अपैरल (Mega Investment Textiles Parks (MITRA) योजना के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना के अंतर्गत देशभर में 7 इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल पार्क का निर्माण किया जाएगा, जिससे कि एक ही जगह पर स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाई एवं प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा। 

पीएम मित्र योजना के माध्यम से टेक्सटाइल एवं मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रांति आएगी। सरकार द्वारा इस योजना के संचालन के लिए ₹4445 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। पीएम मित्र योजना प्रधानमंत्री जी के 5एफ मॉडल से प्रेरित की गई है जो की फार्म टू फाइबर टू फैक्ट्री टू फैशन टू फॉरेन है। इस योजना के माध्यम से टैक्सटाइल पार्क में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया जाएगा।

इस योजना के आने के कारण 21 लाख नौकरियाँ पैदा होंगीं। जिसमें 7 लाख डायरेक्ट और 14 लाख इनडायरेक्ट रोजगार प्राप्त होगा। PM Mitra Scheme भारतीय कंपनियों को ग्लोबल कंपनियों के तौर पर उभरने में कारगर साबित होगी।

ग्रीन फील्ड एवं ब्राउनफील्ड स्थलों पर निवेश

पीएम मित्र योजना के माध्यम से एक ही जगह पर स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाई एवं प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा। पहले यह सब कार्य देश के अलग-अलग राज्यों में होते थे। जिससे कि लॉजिस्टिक का काफी खर्च आता था। पीएम मित्र योजना को आरंभ करने से लॉजिस्टिक की कीमत में भी गिरावट आएगी क्योंकि एक ही जगह पर पूरी वैल्यू चैन मौजूद होगी। इस योजना के अंतर्गत पार्क का निर्माण अलग-अलग राज्यों में स्थित ग्रीन फील्ड एवं ब्राउनफील्ड जगहों पर किया जाएगा। ग्रीन फील्ड मित्र पार्क को विकसित करने के लिए 500 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

पीएम मित्र योजना की संछिप्त जानकारी

योजना का नामPM Mitra Yojana पीएम मित्र योजना
द्वारा शुरू किया गयाकेंद्र सरकार
उदेश्यटेक्सटाइल इंडस्ट्री को इंटीग्रेटेड इकोसिस्टम देना
लाभार्थीभारत के नागरिक
ऑफिसियल वेबसाइट
बजट4445Cr
वर्ष2021
PM Mitra Scheme

3 साल में प्रदान की जाएगी 30 करोड़ रुपए की मदद

वह सभी राज्य जहां सस्ती जमीन, पानी एवं लेबर प्रदान किया जाएगा वहां पर यह पार्क लगाए जाएंगे। 7 पार्क स्थापित करने का अनुमानित खर्च 17000 करोड रुपए है। वह यूनिट जो शुरुआत में आकर बड़ा निवेश करेंगी उनको पहले आओ पहले पाओ के आधार पर मदद भी मुहैया कराई जाएगी। एक यूनिट को 3 साल में 30 करोड़ रुपए तक की मदद सरकार द्वारा मुहैया कराई जाएगी। इन टैक्सटाइल पार्क में रिसर्च सेंटर, डिजाइन सेंटर, ट्रेनिंग सेंटर, मेडिकल सुविधाएं, काम करने वालों के लिए घर की सुविधा, वेयरहाउस, ट्रांसपोर्ट की सुविधा होटल, दुकानें भी बनाई जाएगी। यह पार्क पूरा एक इंटीग्रेटेड सिस्टम होगा जिसके माध्यम से एक ऐसा इकोसिस्टम बन सकेगा जिसमें सभी को एक दूसरे से लाभ एवं मदद प्राप्त हो। पार्क का 50% क्षेत्र शुद्ध विनिर्माण गतिविधियों के लिए, 20% क्षेत्र उपयोगिताओं के लिए एवं 10% क्षेत्र वाणीजिक विकास के लिए विकसित किया जाएगा।

पीएम मित्र योजना का उद्देश्य

पीएम मित्र योजना का मुख्य उद्देश्य टैक्सटाइल इंडस्ट्री को इंटीग्रेटेड इकोसिस्टम प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से 7 टेक्सटाइल पार्को का पूरे देश में निर्माण किया जाएगा। इन पार्कों में स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाई एवं प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा। यह योजना भारतीय कंपनियों को ग्लोबल कंपनियों के तौर पर उभरने में भी कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से निवेश भी आकर्षित किया जा सकेगा। इस योजना के माध्यम से टेक्सटाइल क्षेत्र को एक इंटीग्रेटेड इकोसिस्टम प्राप्त होगा जिससे कि टेक्सटाइल क्षेत्र से जुड़े नागरिकों का विकास हो सकेगा। यह योजना देश की बेरोजगारी दर को कम करने में भी कारगर साबित होगी क्योंकि इस योजना के माध्यम से 21 लाख रोजगार उत्पन्न होंगे। देश के नागरिकों के जीवन स्तर में भी इस योजना के माध्यम से सुधार आएगा।

PM Mitra Yojana के लाभ

  • पीएम मित्र योजना का शुभारंभ 6 अक्टूबर 2021 को किया गया है।
  • इस योजना को प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल एंड अपैरल योजना के नाम से भी जाना जाता है।
  • इस योजना के अंतर्गत देश भर में 7 इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल पार्क का निर्माण किया जाएगा।
  • यह योजना टैक्सटाइल मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रांति लाएगी।
  • सरकार द्वारा इस योजना के संचालन के लिए 4445 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
  • इस योजना को प्रधानमंत्री जी के 5एफ मॉडल से प्रेरित किया गया है जो कि फार्म टू फाइबर टू फैक्ट्री टू फैशन टू फॉरेन है।
  • PM Mitra Yojana के माध्यम से टैक्सटाइल पार्क में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से 21 लाख नौकरियां पैदा की जाएगी।
  • 21 लाख नौकरियों में 7 लाख डायरेक्ट एवं 14 लाख इनडायरेक्ट नौकरियां होंगी।
  • यह योजना भारतीय कंपनी को ग्लोबल कंपनी के तौर पर उभरने में भी कारगर साबित होगी।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से निवेश भी आकर्षित किया जा सकेगा।
  • इस योजना के माध्यम से एक ही जगह पर स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाई एवं प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से लॉजिस्टिक की कीमत में भी गिरावट आएगी क्योंकि पूरी वैल्यू चैन एक ही जगह पर मौजूद होगी।

पीएम मित्र योजना (PM Mitra Scheme) की विशेषताएं

  • पार्क का निर्माण अलग-अलग राज्यों में स्थित ग्रीन फील्ड एवं ब्राउन फील्ड जगहों पर किया जाएगा।
  • ग्रीन फील्ड मित्र पार्क को विकसित करने के लिए 500 करोड़ रुपया खर्च किए जाएंगे।
  • ब्राउन फील्ड पार्क को विकसित करने के लिए 200 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
  • मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की प्रतिस्पर्धा प्रोत्साहन के लिए सभी मित्र पार्क को 300 करोड़ का सपोर्ट प्रदान किया जाएगा।
  • 7 पार्क स्थापित करने का अनुमानित खर्च 17000 करोड़ रुपए है।
  • यह पार्क पूरा एक इंटीग्रेटेड सिस्टम होगा जिसके माध्यम से एक ऐसा इकोसिस्टम बन सकेगा जिसमें सभी को एक दूसरे से लाभ एवं मदर प्राप्त हो सकेगी।
  • पार्क का 50% क्षेत्र शुद्ध विनिर्माण गतिविधियों के लिए, 20% क्षेत्र उपयोगिताओ के लिए एवं 10% क्षेत्र वाणिज्यिक विकास के लिए विकसित किया जाएगा।

पीएम मित्र योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

अगर आप PM Mitra Scheme का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको अभी कुछ समय इंतजार करना पद सकता है, क्योंकि सरकार द्वारा अभी केवल इस योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई है। जल्द ही भारत सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन से संबंधित जानकारी प्रदान की जाएगी। जैसे ही सरकार इस योजना के अंतर्गत आवेदन से संबंधित कोई भी जानकारी साझा करेगी, हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से जरूर बताएंगे।

Leave a Comment